डॉक्टर बनना चाहती थीं आम्रपाली दुबे, फिर क्यों आना पड़ा भोजपुरी फिल्मों में

आम्रपाली दुबे एक भारतीय टीवी एक्ट्रेस और भोजपुरी फिल्म दुनिया की एक उभरती हुई कलाकार हैं. लोग इनकी सुंदरता, क्यूटनेस और एक्टिंग स्किल के दीवाने हैं. इन्होंने अपने कैरियर की शुरुआत मॉडलिंग से थी. उसके बाद उन्होंने भारतीय टीवी के तरफ रुख कर लिया।

इन्होंने भारतीय टीवी सीरियल “रहना है तेरी पलकों की छांव में” से काफी नाम और शोहरत कमाया. इसमें इन्होंने मुख्य भूमिका निभाई थी. इसके अलावा यह “मेरा नाम करेगी रोशन” में भी काम कर चुकी है.

Amrapali Dubey
Source-social media

जी टीवी के सात फेरे में नजर आई थीं अम्रपाली

आम्रपाली दुबे सहारा वन पर एक काल्पनिक मूवी “हांटेड नाइटस” ज़ी टीवी पर “सात फेरे” जैसे धारावाहिक में काम कर चुकी हैं. इसके बाद आम्रपाली ने भोजपुरी सिनेमा जगत की ओर रुख कर दिया, इन्होंने अपनी पहली फिल्म दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ के साथ ”निरहुआ हिंदुस्तानी” से शुरु की।

Amrapali Dubey
Source-social media

आम्रपाली डॉक्टर बनना चाहती थीं

आम्रपाली दुबे का जन्म 11 जनवरी 1987 को उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में हुआ था. बाद में वह अपने दादा के साथ मुंबई चली गयीं. आम्रपाली दुबे अपनी कॉलेज की पढ़ाई भवन कॉलेज मुंबई से की है. इन्होंने एक इंटरव्यू में बताया कि वह पहले डॉक्टर बनना चाहती थी, लेकिन वह पढ़ाई में उतनी अच्छी नहीं थी तो उन्होंने ऑडिशन देना शुरू कर दिया. भाग्य से उन्हें ”सात फेरे” टीवी सीरियल में अपना एक्टिंग कैरियर शुरू करने का मौका मिल गया. इसके बाद इन्होंने बहुत सारी सीरियल की, लेकिन उनके भाग्य में भोजपुरी सिनेमा का सितारा बनना ही लिखा था.

Amrapali Dubey
Source-social media

जब निरहुआ के साथ की थी पहली मूवी

आम्रपाली ने अपनी पहली फिल्म निरहुआ हिंदुस्तानी 2014 से शुरू किए, इसके बाद उन्होंने बहुत सारे भोजपुरी फिल्मों में काम किया. ज्यादातर इन्होंने दिनेश लाल यादव ( निरहुआ) के साथ काम किया है. लोगों द्वारा आम्रपाली और निरहुआ की जोड़ी भोजपुरी बॉक्स ऑफिस पर काफी सराही गई है. साथ ही आम्रपाली दुबे को बेस्ट सर्पोटिंग एक्ट्रेस का अवॉर्ड BIFA (Bhojpuri International Film Awards ) 2015 मिला है. BIFA यह पहला भोजपुरी पुरस्कार समारोह है, जिसमें केवल भोजपुरी फिल्म जगत शामिल है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.